हार्दिक पांड्या के बचाव में आए पिता, कहा-उसकी मंशा सिर्फ ऑडियंस का मनोरंजन करने की थी

भारतीय टीम के सलामी बल्लेबाज केएल राहुल और ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या पर जैसे मुश्किलों का पहाड़ टूट गया है। हाल ही में दोनों खिलाड़ी कॉफी विथ करण के शो में गए थे जहां पर दोनों ने जोश-जोश में महिलाओं के ऊपर ऐसी टिप्पणियां कर दी कि लोगों के निशाने पर आ गए हैं। बता दें कि मौजूदा ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज से भी निकाल दिया है।

भारतीय टीम से बाहर हुए पांड्या-राहुल

पांड्या और राहुल को भारतीय टीम से जांच पूरी होने तक सस्पेंड कर दिया है और उन दोनों को ऑस्ट्रेलिया से भारत वापस बुला लिया है। बोर्ड ने जांच शुरू कर दी पांड्या और राहुल के खिलाफ और इतना ही नहीं टीम से जांच खत्म होने तक दोनों को सस्पेंड भी कर दिया गया है।

खबरों की मानें तो ऐसा कहा जा रहा है कि आने वाले न्यूजीलैंड दौरे में शायद ही पांड्या और राहुल में टीम का हिस्सा हों। पांड्या और राहुल के इस विवाद पर भारतीय टीम के कई पूर्व खिलाडिय़ों ने आलोचना की है तो वहीं हार्दिक पांड्या के पिता भी अब अपने बेटे के बचाव के लिए सामने आ गए हैं।
पिता ने किया हार्दिक पांड्या का बचाव

बता दें कि हार्दिक पांड्या के पिता हिमांशु पांड्या बेटे के बचाव में आ गए हैं और उन्होंने कहा है कि पांड्या का इरादा किसी को भी आहत पहुंचा का नहीं था और उसने जो भी कहा वह सिर्फ ऑडियंस को इंटरटेन करने के लिए ही बोला था।

हार्दिक पांड्या के पिता हिमांशु पांड्या ने अपने एक इंटरव्यू में कहा है कि, मुझे नहीं लगता कि लोगों को उसकी टिप्पणियों पर कुछ ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है। यह एक मनोरंजक शो था और उसने ये बातें हल्के मिजाज में ही कहीं थी। वह सिर्फ शो की ऑडियंस को एंटरटेन करने की कोशिश कर रहा था। इसलिए उसके इन बयानों को ज्यादा गंभीरता से नहीं लिया जाना चाहिए। वह एक मासूम और मजाकिया लड़का है।

..

(साभार :  एजेन्सी / संवाददाता  / अन्य न्यूज़ पोर्टल )

ताजा खबरों के अपडेट लगातार पाने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें| आप हमें ट्वीटर पर भी फॉलो कर सकते हैं|

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

अंतिम क्षणों में बहरीन से हारा भारत


शारजाह : एएफसी एशिया कप फुटबॉल टूर्नामेंट के मैच सोमवार को यहां बहरीन ने अंतिम क्षणों में जमाल रशीद की पैनल्टी की बदौलत भारत को 1-0 से हराकर टूर्नामेंट से लगभग बाहर कर दिया। भारतीय टीम ने पूरे मैच के दौरान बहरीन को कड़ी टक्कर दी और दोनों टीमें अंतिम क्षणों तक कोई गोल नहीं कर सकी थी। भारत ने अपने पहले मैच में थाईलैंड को 4-1 से हराया था लेकिन वह मेज