लालू प्रसाद यादव से मिले माकपा नेता सीताराम येचुरी


मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के महासचिव सीताराम येचुरी ने आज झारखंड की राजधानी रांची के राजेंद आयुर्विज्ञान संस्थान (रिम्स) में इलाजरत राष्ट्रीय जनता दल (राजद) अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव से मुलाकात की।
श्री येचुरी ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि उन्होंने रिम्स जाकर श्री यादव से मुलाकात की है। इस दौरान इस वर्ष होने वाले लोकसभा चुनाव को लेकर बिहार में महागठबंधन के स्वरूप पर चर्चा हुई। उन्होंने कहा कि बिहार में विपक्षी दलों के होने वाले गठबंधन एवं अन्य मामलों पर राजद अध्यक्ष से बातचीत हुई है। श्री यादव से हुई चर्चाओं का अभी खुलासा नहीं किया जा सकता है।
माकपा नेता ने श्री यादव के लिए तय की गई अवधि पर नाराजगी जाहिर करते हुये कहा कि राजद अध्यक्ष से सप्ताह में केवल एक दिन तीन लोगों को ही मिलने की अनुमति दी जाती है, जो ठीक नहीं है।

श्री येचुरी ने उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी (सपा) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के बीच हुये गठबंधन पर कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के खिलाफ यह स्वागतयोज्ञ कदम है। उन्होंने कहा कि भाजपा के विजय रथ को रोकने के लिए प्रत्येक राज्य में ऐसे ही गठबंधन बनेंगे। केंद्र में भी सभी धर्मनिरपेक्ष ताकतें एकजुट होंगी और इसके लिए गंभीरता से प्रयास किये जा रहे हैं।
माकपा नेता ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार होने के बारे में पूछे जाने पर कहा कि यह लोकसभा चुनाव संपन्न होने के बाद महागठबंधन के सभी घटक दल मिलकर तय करेंगे।
श्री येचुरी ने कहा कि भाजपा के अलावा किसी पार्टी की यह परिपाटी नहीं रही है कि चुनाव से पहले प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के नाम की घोषणा की जाये। उन्होंने कहा कि यह कोई नहीं जानता था कि श्री मनमोहन सिंह, श्री देवेगौड़ और श्री गुजराल देश के प्रधानमंत्री बनेंगे। यह चुनाव होने के बाद ही तय हुआ था। उन्होंने कहा कि फिलहाल तो यह जरूरी है कि लोकसभा चुनाव में भाजपा विरोधी मतों के बंटवारे को रोका जाये और इसके लिए प्रयास किये जा रहे हैं।
..

(साभार :  एजेन्सी / संवाददाता  / अन्य न्यूज़ पोर्टल )

ताजा खबरों के अपडेट लगातार पाने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें| आप हमें ट्वीटर पर भी फॉलो कर सकते हैं|

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

विहिप के पूर्व अध्यक्ष विष्णु हरि डालमिया का 91 वर्ष की आयु में निधन


राम जन्मभूमि आंदोलन के प्रमुख नेताओं में से एक विश्व हिन्दू परिषद के पूर्व अध्यक्ष एवं वर्तमान में वरिष्ठ सलाहकार विष्णु हरि डालमिया का लंबी बीमारी के बाद बुधवार को निधन हो गया। वह 91 वर्ष के थे। यह जानकारी श्रीकृष्ण जन्मस्थान ट्रस्ट के तहत श्रीकृष्ण जन्मस्थान परिसर से जुड़े सभी मंदिरों का प्रबंधन संभालने वाले श्रीकृष्ण सेवा संस्थान के सचिव कप