अमर सिंह ने बीएसपी-सपा पर कसा तंज , कहा


आगामी आम चुनाव में नरेन्द्र मोदी की अगुवाई वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) का मुकाबला करने के लिए बहुजन समाज पार्टी(बीएसपी) और समाजवादी पार्टी(सपा) के बीच शनिवार को हुये गठबंधन पर तंज कसते हुए राज्यसभा सदस्य अमर सिंह ने कहा है यह ‘‘ केवल अखिलेश और मायावती ( बुआ और बबुआ ) के बीच है।’’
बसपा सुप्रीमो मायावती और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में आम चुनाव के लिए गठबंधन का ऐलान करते हुए कहा है कि दोनों दल 38..38 सीटों पर चुनाव लडेंगे। दो सीटें सहयोगी दलों के लिए छोड़ गई है जबकि अमेठी और रायबरेली में कांग्रेस उम्मीदवारों के खिलाफ गठबंधन उम्मीदवार खड़ नहीं करेगा।
वर्तमान में अमेठी से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और रायबरेली से पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी सांसद है। सपा के संस्थापक मुलायम सिंह यादव के किसी समय सबसे करीबी रहे अमर सिंह ने कहा कि गठबंधन बसपा प्रमुख मायावती और सपा अध्यक्ष अखिलेश के बीच में हैं और इसमें वह (मुलायम सिंह यादव )कहीं नहीं है।

श्री अमर सिंह ने ट्वीट कर कहा ‘‘ सपा के संस्थापक तो हमेशा मुलायम सिंह जी ही रहेंगे।’’ गठबंधन के मामले में मुलायम सिंह को पूरी तरह अलग रखा गया है। गठबंधन के बैनरों में मायावती, मुलायम सिंह और अखिलेश एक साथ नहीं हैं। यह गठबंधन‘‘ केवल अखिलेश और मायावती(बुआ और बबुआ) के बीच है।’’
पिछले आम चुनाव में भाजपा की अगुवाई वाले गठबंधन ने 80 में से 73 सीटें जीती थीं। सपा को पांच और कांग्रेस को दो पर विजय मिली थी। बसपा का पूरी तरह सूपड़ साफ हो गया था। इसके बाद योगी आदित्य नाथ के उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री और केशव प्रसाद मौर्य के उप मुख्यमंत्री बनने से गोरखपुर और इलाहाबाद सीटों पर हुए उपचुनाव में भाजपा को हार मिली थी। कैराना में भी भाजपा सांसद की मृत्यु के बाद हुए उपचुनाव में विपक्ष की उम्मीदवार तबुस्म हसन विजयी हुई थीं।
..

(साभार :  एजेन्सी / संवाददाता  / अन्य न्यूज़ पोर्टल )

ताजा खबरों के अपडेट लगातार पाने के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करें| आप हमें ट्वीटर पर भी फॉलो कर सकते हैं|

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

शाही स्नान के साथ कुम्भ मेला शुरू, 3 केंद्रीय मंत्रियों ने संगम में लगाई डुबकी

प्रयागराज : मकर संक्रांति पर विभिन्न अखाड़ों के नागा साधुओं के शाही स्नान के साथ ...